यूपी बाल श्रमिक विद्या योजना 2023(Bal Shramik Vidya Yojana 2023)

यूपी बाल श्रमिक विद्या योजना 2023(Bal Shramik Vidya Yojana 2023)

यूपी बाल श्रमिक विद्या योजना 2023(Bal Shramik Vidya Yojana 2023)

Table of Contents

यूपी बाल श्रमिक विद्या योजना 2023(Bal Shramik Vidya Yojana ) –

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने साल 2020 में 12 जून को उत्तर प्रदेश में पढ़ने वाले विद्यार्थियों के लिए मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना की शुरुआत की थी। इस योजना के अंतर्गत, लाभार्थी लड़कों को प्रतिमाह ₹1000 और लड़कियों को ₹1200 का धनराशि प्रदान किया जाता है। यह पैसा लाभार्थियों को उनकी पढ़ाई के लिए उपयोग करने के लिए या अपने परिवार को आर्थिक सहायता देने के लिए भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

इसके अलावा, उत्तर प्रदेश में रहने वाले श्रमिकों के बच्चों को आठवीं से लेकर दसवीं कक्षा तक पढ़ रहे विद्यार्थियों को हर साल ₹6000 की अतिरिक्त वित्तीय सहायता प्रदान की जा रही है, जो यूपी सरकार द्वारा उपलब्ध की जाती है। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के इच्छुक विद्यार्थियों को इसमें आवेदन करना होगा। योजना में लाभार्थी का चयन विशेषतः के आधार पर होगा, और चयनित विद्यार्थी को ही आर्थिक सहायता प्राप्त हो सकेगी।

क्या है नंद बाबा दुग्ध मिशन योजना 2023

Bal Shramik Vidya Yojana UP (यूपी बाल श्रमिक विद्या योजना 2023 ) –

योजना का नाम बाल श्रमिक विद्या योजना
राज्य उत्तर प्रदेश
किसने शुरू की मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
लाभार्थी यूपी के श्रमिक परिवार के बालक और बालिका
उद्देश्य हर महीने आर्थिक सहायता देना
आधिकारिक वेबसाइट uplabour.gov.in
हेल्पलाइन नंबर
बहुत जल्द

यूपी बाल श्रमिक विद्या योजना का उद्देश्य (Objective)-

प्रदेश में श्रमिक परिवारों के लिए “यूपी बाल श्रमिक विद्या योजना” का उद्देश्य बच्चों के भविष्य को सुधारना है। इन परिवारों के बच्चे अपनी खराब आर्थिक स्थिति के कारण अक्सर पढ़ाई में संकटों से गुजरते हैं। उन्हें समय पर शिक्षा फीस ना जमा करने के कारण कई बार कक्षाएं छोड़ देनी पड़ती है। सरकार ने इसलिए उत्तर प्रदेश बाल श्रमिक विद्या योजना की शुरुआत की है, जोकि ऐसे श्रमिक परिवारों के बच्चों के भविष्य को समृद्धि की दिशा में आगे बढ़ाने और उन्हें शिक्षा के प्रति प्रोत्साहित करने के लिए है। इस योजना के तहत, सरकार लाभार्थी बालक और बालिकाओं को आर्थिक सहायता प्रदान करेगी। इस आर्थिक सहायता का उपयोग उन्हें उनकी शिक्षा के लिए करने में किया जा सकता है और उन्हें विद्यार्थी जीवन में आवश्यक वस्तुओं की खरीदारी के लिए भी किया जा सकता है।

इस योजना के तहत लाभार्थी बालकों को 1,000 रूपये प्रतिमाह छात्रवृत्ति सरकार देती है, और वहीं बालिकाओं को 1,200 रूपये प्रतिमाह छात्रवृत्ति दी जाती हैं. 

यूपी बाल श्रमिक विद्या योजना के लाभ (Benefit)

  • मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा साल 2020 में ही बाल श्रमिक विद्या योजना का शुभारंभ उत्तर प्रदेश राज्य में कर दिया गया था ।
  • इस योजना का फायदा उत्तर प्रदेश राज्य में रहने वाले गरीब बच्चों को प्राप्त होगा।
  • योजना के लिए बालक और बालिका दोनों ही पात्र होंगे।
  • गवर्नमेंट के द्वारा योजना में शामिल लड़कों को हर महीने ₹1000 और लड़कियों को हर महीने ₹1200 प्रदान किए जाएंगे।
  • इसके अलावा सरकार ने कहा है कि जो श्रमिक बच्चे आठवीं, नौवीं और दसवीं क्लास में पढ़ाई कर रहे हैं उन्हें यूपी सरकार हर महीने ₹6000 की एक्स्ट्रा सहायता प्रदान करेगी।
  • इस योजना में आवेदन करने पर और लाभार्थी के तौर पर चुने जाने पर ही योजना का फायदा प्राप्त हो सकेगा। बिना आवेदन किए हुए योजना का फायदा नहीं दिया जा सकेगा।
  • योजना में नाम आने की वजह से अब बच्चों को आर्थिक सहायता मिलेगी, जिससे वह पढ़ाई करने के लिए प्रेरित होंगे और अपने सपनों की मंजिल को प्राप्त कर सकेंगे।

यूपी नि:शुल्क ओ लेवल कंप्यूटर प्रशिक्षण योजना 2023

यूपी बाल श्रमिक विद्या योजना हेतु पात्रता (Eligibility)

  • योजना के लिए सिर्फ उत्तर प्रदेश के स्थाई विद्यार्थी ही पात्र होंगे।
  • योजना के लिए बालक और बालिका दोनों पात्र होंगे।
  • वही बालक और बालिका योजना के लिए पात्र होंगे जो श्रमिक परिवारों से आते होंगे।
  • ऐसे ही बालक और बालिकाओं को योजना का फायदा मिलेगा, जो योजना में आवेदन करेंगे।
  • कम से कम 8 और अधिक से अधिक 18 साल की उम्र के विद्यार्थियों को योजना का पैसा दिया जाएगा।

यूपी बाल श्रमिक विद्या योजना हेतु दस्तावेज (Documents)

  • आधार कार्ड की फोटो कॉपी
  • पहचान पत्र की फोटो कॉपी
  • फोन नंबर
  • ईमेल आईडी
  • पासपोर्ट साइज की रंगीन फोटो
  • अन्य दस्तावेज

यूपी बाल श्रमिक विद्या योजना अधिकारिक वेबसाइट (Official Website)

यदि आप इस योजना के बारे में जानना चाहते हैं तो इसके लिए उत्तर प्रदेश राज्य के श्रमिक विभाग की अधिकारिक वेबसाइट में आप विजिट कर सकते हैं.

Bal Shramik Vidya Yojana Online Registration

इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए कोई ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन प्रक्रिया नहीं है. यदि आप इस योजना के लाभार्थी है तो आपको स्वयं ही सरकार द्वारा चयन करके इसका लाभ मिलना शुरू हो जायेगा. इसके लिए आपको कोई आवेदन करने की आवश्यकता नहीं.

यूपी बाल श्रमिक विद्या योजना चयन प्रक्रिया (Selection Process)

यूपी बाल श्रमिक विद्या योजना के चयन प्रक्रिया के अनुसार, उन श्रमिक परिवारों के बच्चों का चयन किया जाएगा जिनके पास कोई जमीन नहीं है और जिनके परिवार में महिला प्रमुख हैं। इसके लिए 2011 की जनगणना सूची का उपयोग किया जाएगा।

इस योजना के अंतर्गत बच्चों की पहचान लेबर डिपार्टमेंट के अधिकारियों द्वारा किए गए सर्वे, ग्राम पंचायतों, स्थानीय निकायों, चाइल्ड लाइन्स, और विद्यालय समितियों द्वारा की जाएगी। इसके साथ ही, अगर बच्चे के माता-पिता किसी गंभीर बीमारी से प्रभावित हैं, तो उन बच्चों को प्राथमिकता दी जाएगी, और इसके लिए उन्हें मेडिकल सर्टिफिकेट की आवश्यकता होगी, जिसे संबंधित सरकारी अधिकारी द्वारा सत्यापित किया जाना चाहिए।

यूपी बाल श्रमिक विद्या योजना हेल्पलाइन नंबर (Helpline Number)

हमने आर्टिकल के द्वारा आपको उत्तर प्रदेश में चल रही बाल श्रमिक विद्या योजना के बारे में जरूरी जानकारी प्रदान कर दी है। अगर आपको कोई पूछताछ करनी हो या फिर आप किसी भी प्रकार की शिकायतों को दर्ज करवाना चाहते हो तो ऐसा आप हेल्पलाइन नंबर पर कॉल कर सकते हैं इसके लिए आपको थोड़ा इंतजार करना होगा।

FAQ

Q : बाल श्रमिक विद्या योजना कौन से राज्य में चल रही है?

Ans : उत्तर प्रदेश

Q : बाल श्रमिक विद्या योजना यूपी की शुरुआत किसने की?

Ans : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

Q : बाल श्रमिक विद्या योजना कब चालू की गई?

Ans : साल 2020

Q : बाल श्रमिक विद्या योजना का फायदा किसे मिलेगा?

Ans : यूपी के श्रमिक परिवारों के बालक और बालिकाओं को

Q : बाल श्रमिक विद्या योजना में कितना पैसा मिलता है?

Ans : हर महीने लड़के को 1000 रूपये और लडकियों को 1200 रूपये की आर्थिक सहायता मिलेगी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *